सुलभ वास्तु शास्त्र हिंदी में पीडीएफ फाइनल डाउनलोड | Sulabh Vaastu Shaastr In Hindi PDF Final Download

सुलभ वास्तु शास्त्र हिंदी में पीडीएफ फाइनल डाउनलोड | Sulabh Vaastu Shaastr In Hindi PDF Final Download

सभी हिंदी पुस्तकें पीडीएफ Free Hindi Books pdf

पुस्तक डाउनलोड करे

पुस्तक ख़रीदे

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें

अगर इस पेज पर दी हुई सामग्री से सम्बंधित कोई भी सुझाव, शिकायत या डाउनलोड नही हो रहे हो तो नीचे दिए गए Contact Us बटन के माध्यम से सूचित करें। हम आपके सुझाव या शिकायत पर जल्द से जल्द अमल करेंगे

hindi pustak contactSummary of Book / बुक का सारांश 

वास्तु की नींव पारंपरिक रूप से पौराणिक ऋषि मामुनि मय को दी जाती है, जिन्हें माना जाता है कि वे पहले लेखक और वास्तु शास्त्र के निर्माता और प्राचीन काल के वास्तु निर्माण के विशेषज्ञ थे। अमेरिकन यूनिवर्सिटी ऑफ मेयोनिक साइंस एंड टेक्नोलॉजी में चांसलर और प्रोफेसर (स्वयंसेवक) जेसी मर्के के अनुसार, प्रामाणिक वास्तु विज्ञान हजारों साल पहले ममुनि मय नामक एक ऋषि वैज्ञानिक / बढ़ई द्वारा खोजे गए प्राचीन सिद्धांतों पर आधारित है। माया विश्वकर्मा के पांच पुत्रों में से एक है। [18] मय का उल्लेख पूरे भारतीय साहित्य में मिलता है। सबसे विशेष रूप से, उन्होंने कृष्ण के लिए द्वारका शहर का निर्माण किया। वास्तु शास्त्र और सिंधु घाटी सभ्यता में रचना के सिद्धांतों के लिंक का पता लगाने वाले सिद्धांत बनाए गए हैं, लेकिन विद्वान कपिला वात्स्यायन इस तरह के लिंक पर अटकलें लगाने से हिचक रहे हैं, क्योंकि सिंधु घाटी की लिपि अस्पष्ट बनी हुई है

freehindipustak पर उपलब्ध इन हजारो बेहतरीन पुस्तकों से आपके कई मित्र और भाई-बहन भी लाभ ले सकते है – जरा उनको भी इस ख़जाने की ख़बर लगने दें | 

The foundation of vastu is traditionally ascribed to the mythical sage Mamuni Mayan who is believed to be the first author and the creator of Vastu shastra and expert in Vastu constructions of ancient times. According to Jessie Mercy, Chancellor and Professor (Volunteer) at American University of Mayonic Science and Technology, authentic Vaastu science is based upon ancient principles discovered thousands of years ago by a rishi scientist/carpenter named Mamuni Mayan. Mayan is one of the five sons of Vishwakarma.[18] Mayan is mentioned throughout Indian literature. Most notably, he built the city of Dwarka for Krishna. Theories tracing links of the principles of composition in Vastu shastra and the Indus Valley Civilization have been made, but scholar Kapila Vatsyayan is reluctant to speculate on such links given the Indus Valley script remains undeciphered

Connect with us / सोशल मीडिया पर हमसे जुरिए 

telegram hindi pustakhindi pustak facebook