वात्स्यायन का कामसूत्र ऑनलाइन पढ़ें | The Kama Sutra Of Vatsyayana Read Online

About Book / बुक के बारे में

Pustak Ka Naam / Name of Book ----- महर्षि वात्स्यायन -सम्पूर्ण भाग /Sampurna Kamasutra -All Volume

Pustak Ke Lekhak / Author of Book  ----- महर्षि वात्स्यायन /Maharishi Vatsyayan

Pustak Ki Bhasha / Language of Book ---- हिंदी/HIndi

Pustak Ka Akar / Size of Ebook  ----- 2.2 MB

Pustak me Kul Prashth / Total pages in ebook - 148

 prakasan ki thithi/ Publication Date -----  1950

 Download Sthiti / Ebook Downloading Status -- Best

(Report through Contact Us form if you are facing any issue in online studying / पुस्तक के ओनलाईन पढने मे समस्या होने की स्थिति मे  कृपया Contact Us form के माध्यम से हमें अवगत कराते रहें )

अन्य सर्वाधिक लोकप्रिय पुस्तकें के लिए यहाँ दबाइए – सर्वाधिक लोकप्रिय पुस्तकें

सभी हिंदी पुस्तकें पीडीएफ Free Hindi Books pdf

पुस्तक डाउनलोड करे

पुस्तक ख़रीदेश्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें

(Report through Contact Us form if you are facing any issue in downloading / कृपया Contact Us form के माध्यम से हमें पुस्तक के डाउनलोड ना होने की स्थिति से अवगत कराते रहें )

 

“इस विज्ञान के सच्चे सिद्धांतों से परिचित व्यक्ति, जो अपने धर्म (पुण्य या धार्मिक योग्यता), अपने अर्थ (सांसारिक धन) और अपने काम (सुख या कामुक संतुष्टि) को संरक्षित करता है, और जो लोगों के रीति-रिवाजों का सम्मान करता है, इन्द्रियों पर अधिकार प्राप्त करना निश्चित है। संक्षेप में, एक बुद्धिमान और ज्ञानी व्यक्ति जो धर्म और अर्थ और काम को भी अपनी वासनाओं का दास बने बिना, हर काम में सफलता प्राप्त करेगा जो वह कर सकता है। ”
एम. वात्स्यायन, कामसूत्र

“A person acquainted with the true principles of this science, who preserves his Dharma (virtue or religious merit), his Artha (worldly wealth) and his Kama (pleasure or sensual gratification), and who has regard to the customs of the people, is sure to obtain the mastery over his senses. In short, an intelligent and knowing person attending to Dharma and Artha and also to the Kama, without becoming the slave of his passions, will obtain success in everything that he may do.”
― M. Vatsyayana, Kama Sutra

Connect with us / सोशल मीडिया पर हमसे जुरिए 

telegram hindi pustakhindi pustak facebook

Share with Friends & Family member  / मित्रों और परिवार के सदस्यों के साथ शेयर  करें