चाणक्य अर्थशास्त्र पीडीएफ हिंदी में | Chanakya Arthshastra pdf in hindi

चाणक्य अर्थशास्त्र हिंदी पीडीएफ फाइनल डाउनलोड | Chanakya Arthshastra in hindi pdf final Download

सभी हिंदी पुस्तकें पीडीएफ Free Hindi Books pdf

पुस्तक डाउनलोड करे

पुस्तक ख़रीदे

श्रेणियो अनुसार हिंदी पुस्तके यहाँ देखें

अगर इस पेज पर दी हुई सामग्री से सम्बंधित कोई भी सुझाव, शिकायत या डाउनलोड नही हो रहे हो तो नीचे दिए गए Contact Us बटन के माध्यम से सूचित करें। हम आपके सुझाव या शिकायत पर जल्द से जल्द अमल करेंगे

hindi pustak contactSummary of Book / बुक का सारांश 

हमारा विचार था, कि इस ग्रन्थके रथ एक विस्तृत उपोद्धात लिसाजाय, परन्तु कौटलीय अर्थशास्त्र के सम्बन्धी अपने उन सब विचारोंको प्रकट करनेके लिये हमें ये उपोद्धातके पन्ने कुछ थोड़े प्रतीत हुए । अव विचार होगया है, कि मूल अर्थशाख पर एक विस्तृत स्वतन्त्र ग्रन्थ लिखाजाय । उस ही में ग्रन्थकर्ता के समय, स्थान, ग्रन्थकी विशेषताएं तथा अन्य आलोचना, प्रत्यालोचना आदिका समावेश होगा। फिर भी इस ग्रन्थके सम्बन्ध इतना जानलेना आवश्यक है। कि यह मूलमन्थ विष्णुगुप्त कौटल्य (चाणक्य ) का लिया हुंआ है। चाणक्य, सन्नाटू चन्द्रगुतका प्रधान अमात्य था। इसने मगधके राजा महानन्द पद्म को, अपना तिरस्कार करने के कारण मारकर चन्द्रगुप्त मौर्यको राज्यसिंहासनपर बिठाया था । यदि अंग्रेजी गज़से नापा जाय, तो मौर्य चन्द्रगुप्तका समय ईसवी सन्से पहिले तीसरी सदी है । वही समय चाणक्यका भी समझना ‘चाहिये।

freehindipustak पर उपलब्ध इन हजारो बेहतरीन पुस्तकों से आपके कई मित्र और भाई-बहन भी लाभ ले सकते है – जरा उनको भी इस ख़जाने की ख़बर लगने दें | 

It was our idea that to reveal these thoughts to reveal their ideas related to a wide subdaughter Laisajai, but a detailed substance, but to reveal them all those thoughts. There is a considerable idea, that a wide independence on the original economist is written. In that same time, the acceleration and other criticism, the acceleration, the acceleration of the interesting characteristics and other criticisms. Nevertheless, it is necessary to know this book. That it has been taken to Vishnugupta Kulya (Chanakya). Chanakya, Sannatu Chandra was the Principal Principal. It was killed by King King Mahanand Padma, killed Chandragupta Maurya to the state. If English is measured, then Maurya Chandragupta’s time is the first third century. The same time should also understand Chanakyaka.

Connect with us / सोशल मीडिया पर हमसे जुरिए 

telegram hindi pustakhindi pustak facebook